RBI issues alert list

ExpertOption - मोबाइल ट्रेडिंग

ExpertOption एक मोबाइल ब्रोकर है जो वैश्विक बाजारों में ट्रेड करने का एक आसान तरीका प्रदान करता है। शक्तिशाली विश्लेषणात्मक उपकरण प्रदान करके, यह एप एक उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस, और स्टॉक्स से सूचकांक तक 100+ लोकप्रिय संपत्ति तक पहुंच प्रदान करती हैं।

ऐप इंस्टॉल करें और बिना पंजीकरण के तुरंत एक डेमो खाता दर्ज करें। वर्चुअल फंड में $10,000 से वित्त पोषित, ट्रेडर्स जोखिम-मुक्त वातावरण में व्यापार का अभ्यास करने के लिए डेमो का उपयोग कर सकते हैं। व्यापार स्थितियां वास्तविक खाते के समान होती हैं, और उपयोगकर्ता तुरंत डेमो और वास्तविक खातों के बीच स्विच कर सकते हैं।

सुविधाजनक भुगतान
VISA या MasterCard कार्ड के साथ जमा - सभी भुगतान PCI DSS आवश्यकताओं के अनुसार सुरक्षित रूप से संसाधित होते हैं। 200 से अधिक वैश्विक और स्थानीय भुगतान समाधान समर्थित हैं: UPI, Paytm, RuPay, PhonePe, IMPS और भी बहुत कुछ।

स्टॉक्स और सूचकांक
NASDAQ पर सूचीबद्ध व्यापार प्रमुख कंपनियां, जिनमें टेस्ला, कोका-कोला, अमेज़ॉन, माइक्रोसॉफ्ट और नेटफ्लिक्स शामिल हैं। विभिन्न बाजारों से सूचकांकों की एक्सेस प्राप्त करें: US वॉल स्ट्रीट, होंग कोंग या जर्मनी।

एक बढ़ते ट्रेडिंग कम्युनिटी में जुड़ें
ExpertOption 150 से अधिक देशों में उपलब्ध है। सीखते समय दुनिया भर के सफल ट्रेडर्स को देखें और उनका अनुसरण करें।

डेटा की सुरक्षा

आपके डेटा की सुरक्षा, इस बात पर निर्भर करती है कि डेवलपर, डेटा को कैसे इकट्ठा और शेयर करते एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग हैं. डेटा को निजी और सुरक्षित रखने के तरीके अलग-अलग हो सकते हैं. ये आपकी जगह, उम्र, और ऐप्लिकेशन के इस्तेमाल के हिसाब से तय किए जाते हैं. यह जानकारी डेवलपर उपलब्ध कराता है और समय-समय पर इस जानकारी को अपडेट भी किया जा सकता है.

इन 5 बातों का रखेंगे ध्यान तो Intraday Trading मे मिल सकता है बेहतर मुनाफा, जानिए कैसे

जो लोग शेयर बाजार में एक ही दिन में पैसा लगाकर मुनाफा कमाना चाहते हैं उनके लिए इंट्रा डे ट्रेडिंग बेहतर विकल्प है. इसमें एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग पैसा लगाने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है.

इन 5 बातों का रखेंगे ध्यान तो Intraday Trading मे मिल सकता है बेहतर मुनाफा, जानिए कैसे

लोग अक्सर कहते हैं कि शेयर बाजार से मोटा कमाया जा सकता है लेकिन ये इतना आसान भी नहीं है. हालांकि अगर आप बेहतर रणनीति बनाकर लॉन्ग टर्म में सोच कर निवेश करेंगे तो यहां से कमाई की जा सकती है. वहीं इक्विटी मार्केट में इंट्रा डे के जरिए कुछ घंटों में ही अच्छा पैसा बनाया जा सकता एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग है. इंट्रा डे में डिलवरी ट्रेडिंग के मुकाबले पैसा जल्दी बनाया जा सकता है लेकिन इसके जोखि से बचने के लिए आपको बेहतर रणनीति, कंपनी के फाइनेंशियल और एक्सपर्ट की सलाह जैसी चीजों का ध्यान रखना होता है.

क्या है इंड्रा डे ट्रेडिंग

शेयर बाजार में कुछ घंटो के लिए या एक ट्रेडिंग सेशन के लिए पैसा लगाने को इंट्रा डे कहा जाता है. मान लिजिए बाजार खुलने के समय आपने एक शेयर में पैसा लगाया और देखा की आपको आपके मन मुताबिक मुनाफा मिल रहा है तो आप उसी समय उस शेयर को बेचकर निकल सकते है. इंट्रा डे में अगर आप शेयर उसी ट्रेंडिग सेशन में नही भी बेचेंगे तो वो अपने आप भी सेल ऑफ हो जाता है. इसका मतलब आपको मुनाफा हो या घाटा हिसाब उसी दिन हो जाता है. जबकि डिलवरी ट्रेडिंग में आप एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग शेयर को जबतक चाहे होल्ड करके रख सकते हैं. इंट्रा डे में एक बात यह भी है कि आपको ब्रोकरेज ज्यादा देनी पड़ती है. हां लेकिन इस ट्रेडिंग की खास बात यह है कि एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग आप जब चाहे मुनाफा कमा कर निकल सकते है.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

बाजार के जानकारों के मुताबिक शेयर बाजार में इंट्रा डे में निवेश करें या डिलिवरी ट्रेडिंग करें आपको पहले इसके लिए अपने आप को तैयार करना होता कि आप किसलिए निवेश करना चाहते हैं और आपका लक्ष्य क्या है. फिर इसके बाद आप इसी हिसाब से अपनी रणनीति और एक्सपर्ट के जरिए बाजार से कमाई कर एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग सकते हैं. एंजल ब्रोकिंग के सीनियर एनालिस्ट शमित चौहान के मुताबिक इंट्रा डे में रिस्क को देखते हुए आपकी रणनीति बेहतर होनी चाहिए. इसके लिए आपको 5 अहम बाते ध्यान मं रखनी चाहिए.

1. इंट्रा डे ट्रेडिंग में सिर्फ लिक्विड स्टॉक में पैसा लगाना चाहिए. जबकि वोलेटाइल स्टॉक से दूरी बनानी चाहिए.

2. इंट्रा डे में बहुत ज्यादा स्टॉक की जगह अच्छे 2-3 शेयर्स का चुनाव करना चाहिए.

3. शेयर एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग चुनते वक्त बाजार का ट्रेंड देखना चाहिए. इसके बाद कंपनी की पोर्टफोलियो चेक करें. आप चाहे तो शेयर को लेकर एक्सपर्ट की राय भी ले सकते हैं.

4. इंट्रा डे ट्रेडिंग में स्टॉक में उछाल और गिरावट तेजी से आते है, इसलिए ज्यादा लालच नहीं करना चाहिए और पैसा लगाने के पहले उसका लक्ष्य और स्टॉप लॉस जरूर तय कर लेना चाहिए. जिससे टारगेट पूरा होते देख स्टॉक को सही समय पर बेचा जा सके.

5.इंट्रा डे में अच्छे कोरेलेशन वाले शेयरों की खरीददारी करना बेहतर होता है.

डीमैट अकाउंट से कर सकते हैं ट्रेडिंग

अगर शेयर बाजार में ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो आपको डीमैट अकाउंट और एक ट्रेडिंग अकाउंट खुलवाना होगा. आप ऑनलाइन खुद से ट्रेडिंग कर एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग सकते हैं या ब्रोकर को ऑर्डर देकर शेयर का कारोबार कर सकते हैं. इंट्रा डे में किसी शेयर में आप जितना चाहे उतना पैसा लगा सकते हैं.

डिस्क्लेमर : आर्टिकल में इंड्रा डे ट्रेडिंग को लेकर ​बताए गए टिप्स मार्केट एक्सपर्ट्स के सुझावों पर आधारित हैं. निवेश से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें.

आरबीआई ने जारी की अलर्ट लिस्ट: इन 34 फॉरेक्स ट्रेडिंग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म को अवैध घोषित किया

आरबीआई ने 34 विदेशी मुद्रा व्यापार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की लिस्ट जारी की है. लिस्ट जारी करते हुए आीबीआई ने कहा है कि कोई भी अनधिकृत ईटीपी पर विदेशी मुद्रा लेनदेन न करें

RBI issues alert list

RBI issues alert list

gnttv.com

  • नई दिल्ली,
  • 11 सितंबर 2022,
  • (Updated 11 सितंबर 2022, 2:22 PM IST)

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने अनाधिकृत इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म (ETPs) से विदेशी मुद्रा लेनदेन को लेकर चेतावनी दी है. आरबीआई ने उन संस्थाओं की एक 'अलर्ट लिस्ट' जारी की है. जो न तो विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 (फेमा) के तहत विदेशी मुद्रा में सौदा करने के लिए अधिकृत हैं और न ही अपनी वेबसाइट पर विदेशी मुद्रा लेनदेन के लिए इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म संचालित करने के लिए अधिकृत हैं.

एक विज्ञप्ति में, केंद्रीय बैंक ने कहा कि जारी की गई 'अलर्ट सूची' में ऐसी कंपनियों के नाम है जो आरबीआई द्वारा अधिकृत नहीं हैं. आरबीआई ने बताया कि फेमा के तहत केवल अधिकृत व्यक्तियों के साथ और कुछ उद्देश्यों के लिए ही विदेशी मुद्रा लेनदेन कर सकते हैं. सभी कंपनियों को केवल आरबीआई या मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों जैसे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (एनएसई), बीएसई लिमिटेड और मेट्रोपॉलिटन स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड की तरफ से विदेशी मुद्रा में सौदा अधिकृत ईटीपी पर ही किया जाना चाहिए.

आरबीआई ने कहा कि जनता को एक बार फिर आगाह किया जाता है कि वे अनधिकृत ईटीपी पर विदेशी मुद्रा लेनदेन न करें या इस तरह के अनधिकृत लेनदेन के लिए धन जमा / जमा न करें. आरबीआई की तरफ से प्रतिबंधित 34 विदेशी मुद्रा व्यापार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की पूरी लिस्ट यहां दी गई है.

फेमा के तहत अनुमत उद्देश्यों के अलावा या आरबीआई की तरफ से अधिकृत नहीं किए गए ईटीपी पर विदेशी मुद्रा लेनदेन करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

कैसे ठग डीमैट अकाउंट से उड़ा रहे हैं पैसे, धोखाधड़ी से बचने के लिए सुनिए जेरोधा फाउंडर की बात

अपने ट्रेडिंग खाते के लॉग इन डिटेल्स भी शेयर नहीं करने चाहिए.

अपने ट्रेडिंग खाते के लॉग इन डिटेल्स भी शेयर नहीं करने चाहिए.

कुछ लोग मार्केट एक्‍सपर्ट बन निवेशक का विश्‍वास हासिल कर उसकी लॉग इन डिटेल हासिल कर लेते हैं. फिर पेनी स्‍टॉक्‍स या इलि . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : July 12, 2022, 11:36 IST

हाइलाइट्स

इलिक्विड ऑप्शन्स का यूज़ करके निवेशक के डीमैट में फर्जी नुकसान दिखाया गया और फिर पैसे उड़ा लिए जाते हैं.
इस तरह के कई मामले सामने आए हैं. बड़ी बात ये है कि निवेशकों को बहुत बाद में इसका पता चलता है.
नितिन कामत ने कहा है कि अपने डीमैट अकाउंट के लॉगिन डिटेल्स किसी के साथ शेयर ना करें.

नई दिल्‍ली. देश की सबसे बड़ी ब्रोकिंग फर्म जेरोधा (Zerodha) के को-फाउंडर और सीईओ नितिन कामत (Nithin Kamath) ने खुलासा किया है कुछ लोग निवेशकों के डीमैट अकाउंट से पैसे उड़ा रहे हैं. ठग इतने शातिर हैं कि अकाउंट होल्‍डर को ठगे जाने का पता भी बहुत देर से चलता है. धोखाधड़ी करने वाले स्‍वयं को शेयर मार्केट एक्‍सपर्ट बनकर निवेशकों को अपने जाल में फंसाते हैं और डीमैट अकाउंट की लॉग इन डिटेल्‍स हासिल कर लेते हैं.

नितिन कामत ने एक ब्‍लॉग पोस्‍ट में लिखा है कि ऐसे कई मामले आए हैं, जहां पेनी शेयरों या एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग इलिक्विड ऑप्शंस का इस्तेमाल करके निवेशक के डीमैट में फर्जी नुकसान दिखाया गया और फिर उसके खाते में पड़े पैसों को निकाल लिया गया. निवेशक को काफी समय के बाद समझ में आता है कि वह फ्रॉड का शिकार हो गया है.

ऐसे करते हैं धोखाधड़ी
मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के अनुसार, नितिन कामथ ने ब्लॉग में लिखा है, “जब हमें नुकसान होता है तब हम किसी की भी सलाह मान लेते हैं. बाजार में बहुत सारे सलाहकार हैं जो निवेशक की मदद करते हैं. इनके बीच ही ऐसे कई धोखेबाज भी हैं जो सोशल मीडिया पर मार्केट एक्सपर्ट होने का दावा करते हैं और किसी निवेशक का शिकार करने की फिराक में रहते हैं.”

कामथ ने लिखा है कि एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग ये धोखेबाज आपकी मदद के नाम आपके डीमैट अकाउंट का लॉग-इन डिटेल्स ले लेंगे. इसके बाद ये आपके अकाउंट में गैर-वास्तविक ट्रेड्स का उपयोग करके एक नुकसान पैदा कर देते हैं और आपके पैसे को किसी अन्य ट्रेडिंग अकाउंट में भेज देते हैं. इससे आपके लिए यह पता लगाना बहुत मुश्किल हो जाता है कि आपके अकाउंट में घोटाला हो चुका है.

यह है बचने का तरीका
नितिन कामथ का कहना है कि निवेशक इसलिए ठगे जाते हैं, क्‍योंकि वे अपने अकाउंट का लॉग इन डिटेल्‍स दूसरों को दे देते हैं. निवेशक के ट्रेडिंग अकाउंट से पैसे निकालने के लिए इलिक्विड ऑप्शंस या पेनी स्टॉक का इस्तेमाल करके फर्जी नुकसान दिखाया जा सकता है. जैसे अपने बैंक खाते से जुड़े लॉगिन डिटेल्स हम किसी के साथ शेयर नहीं करते, वैसे ही अपने ट्रेडिंग खाते के लॉग-इन पासवर्ड भी शेयर नहीं करने चाहिए. कामत का कहना है कि डीमैट अकाउंट से छेड़छाड़ का एक दूसरा तरीका एक्सपर्ट ऑप्शन में लाइव अकाउंट ट्रेडिंग फिशिंग फ्रॉड है. इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप आधिकारिक ब्रोकर वेबसाइटों और ऐप के अलावा कहीं भी लॉग इन डिटेल्स न भरें.

इन बातों का रखें ध्‍यान

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

रेटिंग: 4.36
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 223