शेयर मार्केट काफी संवेदनशील होने के कारण इसमें सोच-समझकर निवेश करने की जरूरत होती है। चूंकि छोटे निवेशक बाजार के रुख और जिन कारणों से शेयर बाजार प्रभावित होता है, उससे सही तरीके से वाकिफ नहीं होते, इसलिए उन्हें किसी ऐसे जानकार की सेवा लेने की जरूरत महसूस होती ही है, जो उसके पैसे का सुरक्षित निवेश सुनिश्चित कर सके और इसलिए स्टॉक ब्रोकर और इस मार्केट से जुड़े अन्य जानकार लोगों की जरूरत होती है। यदि आप भी स्टॉक ब्रोकर बनने में दिलचस्पी रखते हैं, तो सबसे पहले आपको इस मार्केट के बारे में अच्छी तरह से जानना होगा। इसके लिए पहले आप किसी प्रामाणिक संस्थान से इससे संबंधित कोर्स करें। फिर उसके बाद किसी स्थापित ब्रोकर के साथ कुछ समय काम करके प्रैक्टिकल अनुभव भी हासिल कर सकते हैं। वैसे, यदि आप कैपिटल और कॅमोडिटी मार्केट में रेगुलर इनवेस्ट करने वाले जागरूक निवेशक हैं, तो आप भी स्टॉक मार्केट से संबंधित शॉर्ट-टर्म कोर्स करके अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं। ऐसा करने से आप भी मार्केट की सही एनालिसिस करने में सक्षम हो सकेंगे।

स्टॉक ब्रोकर क्या है और शेयर ब्रोकर के प्रकार (Stock Broker in Hindi)

Stock Broker Kya Hai In Hindi: अगर आप शेयर मार्केट के बारे में सीखना चाहते हैं तो इससे जुड़े छोटे – छोटे टर्म के बारे में जानकारी प्राप्त करें, इनके बारे में जानकारी होना आपके वित्तीय बुद्धि को मजबूत बनाती है. शेयर बाजार से जुडी एक ऐसी ही टर्म है जो कि बहुत महत्वपूर्ण है वह है स्टॉक ब्रोकर. जिसके बारे में हम आपको आज के लेख में जानकारी देंगे.

आज के इस लेख में आपको जानने को मिलेगा कि Stock Broker क्या है, स्टॉक ब्रोकर कितने प्रकार के होते हैं, स्टॉक ब्रोकर कैसे काम करता है और स्टॉक ब्रोकर कैसे बनें.

शेयर मार्केट में स्टॉक ब्रोकर का रोल सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है क्योंकि निवेशक सीधे तौर पर शेयर बाजार में निवेश नहीं कर सकता है. ब्रोकर के द्वारा ही निवेशक शेयर बाजार में शेयर को खरीद और बेच सकता है. शेयर खरीदने और बेचने के लिए ब्रोकर कुछ प्रतिशत चार्ज अपने ग्राहकों से करते हैं जिससे उनकी कमाई होती है.

अगर आप स्टॉक ब्रोकर बनना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा अंत तक पढ़ें, इसमें हमने आपको स्टॉक ब्रोकर के बारे में बहुत उपयोगी जानकारी प्रदान करवाई है. तो चलिए आपका अधिक समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं Share Broker क्या है हिंदी में.

अब एक संपत्ति ब्रोकर बनने का सही समय है

क्या ब्रोकर से प्रशिक्षण आप अपना खुद का रियल एस्टेट ब्रोकिंग व्यवसाय लॉन्च करना चाहते हैं? यदि हां, तो ऐसा करने का सही समय है। 2016 में राष्ट्रीय आवास बोर्ड द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 तक भारत का रियल एस्टेट क्षेत्र 180 अरब डॉलर का हो सकता है। वर्तमान में, यह देश के सकल घरेलू उत्पाद में 7.8 प्रतिशत का योगदान देता है और कई कैरियर के अवसर प्रदान करता है। एक क्षेत्र जिसे अत्यधिक असंगठित कहा जाता है, हाल ही में रियल एस्टेट (विनियामक और विकास) अधिनियम, 2016 के कार्यान्वयन के साथ एक आकृति प्रदान की गई है। इन चालों से उद्योग में सकारात्मक परिवर्तन लाने की संभावना है। इस अधिनियम ने कई प्रावधानों को पेश किया है जिसका उद्देश्य व्यावसायिकता को इस क्षेत्र में लाने और खरीदारों के हितों की रक्षा करना है विशेषज्ञों के मुताबिक, केवल उन डेवलपर्स जो वास्तविक और संगठित हैं, वे बाजार में काम कर पाएंगे। यह अधिनियम अनैतिक और अव्यावहारिक डेवलपर्स को स्वचालित रूप से मिटा देगा। भारत में रियल एस्टेट क्षेत्र में चल रहे विनियामक सुधारों के चलते इस क्षेत्र को घरेलू और विदेशी दोनों निवेशकों से विश्वास मिलेगा। अचल संपत्ति दलालों के लिए क्या है? वर्तमान में, यह क्षेत्र एकत्रीकरण चरण से गुजर रहा है और आप कम मांग से जुड़े समाचारों में आ सकते हैं, इन्वेंट्री तैयार कर सकते हैं, देरी वाली परियोजनाएं, बड़े बिल्डरों को दिवालिया हो रहे हैं आदि। ये सभी सिस्टमिक मुद्दे हैं। इससे पहले, इस क्षेत्र में कानून द्वारा शासित नहीं किया गया था। कोई भी अचल संपत्ति डेवलपर या दलाल बन सकता है लेकिन यह तस्वीर तेजी से बदल रही है क्षितिज पर रीरा के साथ, रियल एस्टेट सेक्टर में परिवर्तन का एक चरण होगा। यह क्षेत्र पेशेवरों के लिए अभूतपूर्व अवसर प्रदान करेगा जो कुशल और जानकार हैं, और संपत्ति खरीदार भी ऐसे दलालों को पसंद करेंगे। क्या कोई प्रशिक्षण अवसर उपलब्ध हैं? ऐसे दिन हो गए हैं जब कोई भी रियल एस्टेट ब्रोकर बन सकता है। रियल एस्टेट कानून के लिए सभी दलालों को रियल एस्टेट विनियामक प्राधिकरण या रीरा के साथ पंजीकृत होना ज़रूरी है। कानून के तहत नियामक प्राधिकरण दलालों की देखरेख करेगा, जो अचल संपत्ति लेनदेन में अपने सभी कृत्यों के लिए जिम्मेदार होगा। प्राधिकरण शीघ्र कार्य करेगा और किसी चूक के मामले में दंड प्रावधानों को लागू करने में शर्म नहीं करेगा इसका मतलब है कि इस क्षेत्र में दलालों की संख्या कम हो जाएगी, जो कि विनियमित वातावरण में काम करने में सक्षम नहीं हैं, वे जल्द ही व्यापार से बाहर हो जाएंगे। यह प्रवृत्ति पेशेवर संस्कृतियों में अनुभव वाले पेशेवरों के लिए एक अवसर पेश करेगी। सफल अचल संपत्ति ब्रोकिंग व्यवसाय चलाने के लिए प्रशिक्षण और प्रमाणीकरण आवश्यक उपकरण, ज्ञान और सूचना के साथ उन्हें हाथ में लेगा। राष्ट्रीय रियल एस्टेट विकास परिषद (एनएआरईडीसीओ) और रियल एस्टेट मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट (आरईएमआई) जैसे संगठन पहले ही दलालों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रहे हैं। ये कार्यक्रम आपको व्यवसाय के रूप में ब्रोकिंग के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं; वित्तपोषण; योजना, क्षेत्रीय और विकास; कानूनी ढांचे; वास्तु शास्त्र; सुरक्षा मानदंड; और कई अन्य अवधारणाओं और मॉडल इसके अलावा, आप इस व्यवसाय को बहुत ही कम कीमत पर लॉन्च कर सकते हैं, और आपको केवल वज़न और सफल होने की प्रतिबद्धता की आवश्यकता है।

नए लोगों के लिए इंस्टाफॉरेक्स ट्रेनिंग कोर्स

क्या आपने अभी-अभी विदेशी मुद्रा की दुनिया में गोता लगाया है? हमारे ऑफर को लेने से नही चूकें! एक लाइव ट्रेडिंग खाता खोलें और इंस्टाफॉरेक्स पेशेवरों द्वारा तैयार किए गए शुरुआती लोगों के लिए ट्रेनिंग कोर्स को डाउनलोड करने के अवसर का लाभ उठाएं।

आपका अकाउंट रेजिस्टर्ड नही है INSTANT TRADING LTD. कृपया इस लिंक को फॉलो करके अन्य ब्रोकर से संपर्क करें link.

इंस्टाफॉरेक्स ट्रेनिंग कोर्स सभी तरह के लोगों के लिए आदर्श है। यह नए लोगों और अनुभवी ट्रेडर्स, दोनों के लिए उपयोगी होगा। यह कोर्स आपके लिए है यदि:

आप फॉरेक्स ट्रेडिंग में रुचि रखते हैं और अपनी सफल यात्रा शुरू करने के लिए बुनियादी ज्ञान की तलाश कर रहे हैं

आपके पास पहले से ही फॉरेक्स ट्रेडिंग का अनुभव है, लेकिन एक ट्रेडर होने के नाते अपना आत्मविश्वास बढ़ाना चाहते हैं और अपने ज्ञान को गहरा करना चाहते हैं

InstaForex - किसी भी समय और कहीं भी फॉरेक्स पर ट्रेड ! जब भी आप चाहें फॉरेक्स ट्रेड करें: ट्रेड यात्रा ब्रोकर से प्रशिक्षण पर, छुट्टी पर, या दोस्तों के साथ समय बिताने के दौरान। अब फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म आपके स्मार्टफोन पर दुनिया के किसी भी स्थान पर कभी भी उपलब्ध है!

इंस्टेंट ट्रेडिंग लिमेटिड (BVI) बीवीआई एफएससी द्वारा लाइसेंस प्राप्त है, जिसका लाइसेंस नंबर SIBA/L/14/1082 है

इंस्टा सर्विस लिमेटिड, एफएससी सेंट विंसेंट के साथ पंजीकृत है, जिसका रजिस्टरेशन नंबर IBC22945 है

इंस्टा ग्लोबल लिमिटेड एफएससी सेंट विंसेंट द्वारा पंजीकृत, शेमरॉक लॉज, नूरे रोड, किंग्सटाउन, सेंट विंसेंट, कंपनी नंबर 24321 IBC 2017.'पर पते के साथ 24321 IBC 2017.

इंश्योर फोररेक्स ब्रांड के तहत सेवाएं प्रदान की जाती हैं जो एक पंजीकृत ट्रेडमार्क है।

Copyright © 2007-2022 InstaForex. All rights reserved. Financial services are provided by InstaFintech Group.

Career in Share Market-शेयर मार्केट में बेहतर कॅरियर

share market of india

शेयर मार्केट काफी संवेदनशील होने के कारण इसमें सोच-समझकर निवेश करने की जरूरत होती है। चूंकि छोटे निवेशक बाजार के रुख और जिन कारणों से शेयर बाजार प्रभावित होता है, उससे सही तरीके से वाकिफ नहीं होते, इसलिए उन्हें किसी ऐसे जानकार की सेवा लेने की जरूरत महसूस होती ही है, जो उसके पैसे का सुरक्षित निवेश सुनिश्चित कर सके और इसलिए स्टॉक ब्रोकर और इस मार्केट से जुड़े अन्य जानकार लोगों की जरूरत होती है। यदि आप भी स्टॉक ब्रोकर बनने में दिलचस्पी रखते हैं, तो सबसे पहले आपको इस मार्केट के बारे में अच्छी तरह से जानना होगा। इसके लिए पहले आप किसी प्रामाणिक संस्थान से इससे संबंधित कोर्स करें। फिर उसके बाद किसी स्थापित ब्रोकर के साथ कुछ समय काम करके प्रैक्टिकल अनुभव भी हासिल कर सकते हैं। वैसे, यदि आप कैपिटल और कॅमोडिटी मार्केट में रेगुलर इनवेस्ट करने वाले जागरूक निवेशक हैं, तो आप भी स्टॉक मार्केट से संबंधित शॉर्ट-टर्म कोर्स करके अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं। ऐसा करने से आप भी मार्केट की सही एनालिसिस करने में सक्षम हो सकेंगे।

क्या है स्टॉक एक्सचेंज?

स्टॉक एक्सचेंज एक ऐसा मार्केट है, जहां स्टॉक ब्रोकर्स शेयर्स, डिबेंचर्स, गवर्नमेंट्स सिक्युरिटीज, बॉन्ड्स लोगों और संस्थाओं को खरीदते व बेचते हैं। इन सिक्युरिटीज का मूल्य डिमांड और सप्लाई के आधार पर मिनट-मिनट में बदलता रहता है। देश में मुंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई), मुंबई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), दिल्ली दो बड़े स्टॉक एक्सचेंज हैं। इसके अलावा कोलकाता, चेन्नई, बंगलुरू, अहमदाबाद, जयपुर और लखनऊ में भी स्टॉक मार्केट हैं।

क्या करते हैं स्टॉक ब्रोकर?

शेयर मार्केट में एक स्टॉक ब्रोकर डीलर, अडवाइजर या सिक्युरिटी एनालिस्ट के रूप में काम करता है। स्टॉक ब्रोकर को खुद को संबंधित स्टॉक एक्सचेंज में रजिस्टर्ड कराना होता है। स्टॉक मार्केट का मेंबर बनने के लिए लिखित परीक्षा देनी होती है और इसे उत्तीर्ण करने के बाद ट्रेनिंग भी लेनी होती है। लिखित परीक्षा में अकाउंटेंसी, कैपिटल मार्केट, सिक्युरिटी और पोर्टफोलियो एनालिसिस का टेस्ट लिया जाता है। ब्रोकर को मेंबरशिप के लिए एक निश्चित धनराशि भी सिक्युरिटी मनी के रूप में जमा करनी होती है। इसके बाद मेंबर को यह भी सुनिश्चित करना होता है कि स्टॉक मार्केट में काम करने के लिए उसके पास कम्प्यूटर, इंटरनेट आदि का इंफ्रास्ट्रक्चर है। उसे यह विकल्प भी बताना होता है कि वह एक डीलर के रूप में काम करना चाहेगा या फिर वहां पहले से कार्यरत स्टॉकब्रोकिंग फर्म के साथ एजेंट के रूप में! स्टॉक मार्केट में चार तरह के स्टॉक ब्रोकर्स होते हैं : 1. सिक्युरिटीज सेल्स रिप्रेजेंटेटिव 2. सिक्युरिटीज ट्रेडर्स 3. सिक्युरिटीज ब्रोकर्स तथा 4. सिक्युरिटीज एनालिस्ट।

किन लोगों की होती है जरूरत?

स्टॉक मार्केट में काम कर रही बडी ब्रोकिंग फर्मे ऐसे एमबीए को प्राथमिकता देती हैं, जिन्होंने फाइनैंस में स्पेशलाइजेशन किया हो या फिर वह चार्टर्ड अकाउंटेंट ब्रोकर से प्रशिक्षण या चार्टर्ड फाइनैंशियल एनालिस्ट हो। इस प्रोफेशन में इकोनॉमिस्ट, अकाउंटेंट्स, फाइनैंस मैनेजर, फाइनैंशियल एनालिस्ट, कैपिटल मार्केट स्पेशलिस्ट्स, इनवेस्टमेंट ऐंड फाइनैंशियल प्लानर्स की आवश्यकता भी होती है।

ब्रोकर की बढती मांग

स्टॉक मार्केट बिजनेस और कॅरियर की दृष्टि से तेजी से उभरता हुआ क्षेत्र है। इसमें स्किल्ड लोगों की जबर्दस्त मांग है। वर्ष 1992-93 में जहां स्टॉक ब्रोकर्स की संख्या लगभग साढे छह हजार थी, वहीं आज इनकी संख्या बढ़कर करीब पंद्रह हजार से अधिक हो गई है।

करें कौन-सा कोर्स?

यदि आप स्टॉक मार्केट से जुड़ना चाहते हैं, तो आपको एमबीए (फाइनैंस), सीए या सीएफए करना होगा। इकोनॉमिक्स या कॉमर्स में पोस्ट-ग्रेजुएशन करके भी आप इस क्षेत्र में जा सकते हैं। हां, ब्रोकर से प्रशिक्षण शर्त बस यही है कि आपको वित्तीय मामलों का एक्सपर्ट होना चाहिए। वैसे, खुद स्टॉक एक्सचेंजों या अन्य प्रतिष्ठित निजी संस्थाओं द्वारा संचालित कोर्स/शॉर्ट टर्म कोर्स करके भी आप इस क्षेत्र में आ सकते हैं। आइए जानते हैं इन कोर्सो के बारे में :

पीजी डिप्लोमा इन फाइनैंशियल ऐंड इनवेस्टमेंट प्लॉनिंग : इसमें दो कोर्स हैं, एक की अवधि 12 महीने है जबकि दूसरा 6 माह का कोर्स है। इसके तहत प्रैक्टिकल ट्रेनिंग भी दी जाती है। किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएट (इकोनॉमिक्स व कॉमर्स को प्राथमिकता) इसमें प्रवेश ले सकते हैं। यह कोर्स देश के कई संस्थानों में उपलब्ध है।

कैपिटल मार्केट सर्टिफिकेट प्रोग्राम : यह शॉर्ट टर्म कोर्स है, जो पूरे वर्ष चलता रहता है। इस कोर्स में कभी भी एडमिशन लिया जा सकता है। यह कोर्स मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ट्रेनिंग इंस्टीटयूट द्वारा संचालित किया जाता है। यह प्रोग्राम ऑनलाइन भी उपलब्ध है। ऑल इंडिया सेंटर फॉर कैपिटल मार्केट स्टडीज द्वारा एक वर्ष की अवधि का पोस्ट-ग्रेजुएट प्रोग्राम भी चलाया जाता है।

डिप्लोमा इन फाइनैंशियल ऐंड इनवेस्टमेंट प्लॉनिंग : एक साल की अवधि वाला यह कॅरेस्पॉन्डेंस-कम-लेक्चर कोर्स इंस्टीटयूट ब्रोकर से प्रशिक्षण ऑफ फाइनैंशियल ऐंड इनवेस्टमेंट प्लॉनिंग, मुंबई द्वारा संचालित किया जाता है। बीएलबी इंस्टीटयूट ऑफ फाइनैंशियल मार्केट (बीआईएफएम) द्वारा भी पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फाइनैंशियल प्लानिंग ऐंड वेल्थ मैनेजमेंट प्रोग्राम चलाया जाता है। इसमें ग्रेजुएट प्रवेश ले सकते हैं। इसमें 3 ट्राइमेस्टर में 16 पेपर पढ़ाए जाते हैं।

शॉर्ट टर्म कोर्स

कुछ प्रतिष्ठित संस्थाओं द्वारा शॉर्ट टर्म कोर्स भी संचालित किए जाते हैं। इनमें तीन महीने का स्टॉक कॅरियर और स्टॉक बिजनेस कोर्स प्रमुख हैं। इन कोर्सो के तहत कैपिटल मार्केट मॉडयूल, डेरिवेटिव मार्केट, कॅमोडिटी मार्केट, ओडीआईएन लाइव टर्मिनल ऑपरेशन, बैक ऑफिस जॉब ऑपरेशन, फंडामेंटल एनालिसिस, टेक्निकल एनालिसिस आदि की ट्रेनिंग दी जाती है। इसके अलावा स्मार्ट इनवेस्टर (3 माह का) कोर्स भी है। ये सभी जॉब ओरिएंटेड कोर्स हैं, जिन्हें करने के बाद आप ब्रोकर फर्मो में काम पा सकते हैं।

प्रमुख संस्थान

द मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ट्रेनिंग इंस्टीटयूट 18वीं-19वीं मंजिल, मुंबई स्टॉक एक्सचेंज, दलाल स्ट्रीट, मुंबई-400 001 वेबसाइट : bseindia.com

इंस्टीटयूट ऑफ फाइनैंशियल एड इवेस्टमेंट प्लानिंग, बी/303, वेंटेक्स विकास, अंधेरी ईस्ट, मुंबई

द इंस्टीटयूट ऑफ कम्प्यूटर अकाउंटेंट 31, इंद्रदीप बिल्डिंग, कम्युनिटी सेंटर, अशोक विहार, नई दिल्ली-88, फोन : 011-47086000, 46056000 वेबसाइट : icajobguarantee.com

द नरसी मुंजी इंस्टीटयूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडी, मुंबई वेबसाइट : nmims.edu

द यूटीआई इंस्टीटयूट ऑफ कैपिटल मार्केट्स प्लॉट 82, सेक्टर-17, वाशी, नवी मुंबई- 400705

मुंबई कम्युनिटी एक्सचेंज लिमिटेड, नवी मुंबई

बीआईएफएम, वनिता मंडली बिल्डिंग, 2, आजाद भवन रोड, आईपी इस्टेट, आईटीओ, नई दिल्ली वेबसाइट : bifm.edu.in

रेटिंग: 4.50
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 527