4. Byju’s

google women centric startups

घर बैठे शुरू करें ये बिजनेस, जिसे एक बार चस्का लग गया वो बार-बार लौटकर आएगा आपके इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें पास

घर बैठे शुरू करें ये बिजनेस, जिसे एक बार चस्का लग गया वो बार-बार लौटकर आएगा आपके पास

खासकर शहरों में टिफिन का बिजनेस घर बैठे शुरू करना फायदे का सौदा है. शहरों में लोगों के पास एक तो वक्त कम होता है, वहीं वह बाहर का खाना रोज नहीं खाना चाहते.

अगर आप शहर में रहने वाली महिला इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें हैं और कोई बिजनेस करने की सोच रही हैं तो आप टिफिन सर्विस (Tiffin Service Business) शुरू कर सकती हैं. महिलाओं इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें को टिफिन सर्विस के बिजनेस में सफलता मिलना तय ही समझिए. आपको इस बिजनेस (Business Idea) के लिए कोई बड़ा निवेश भी करने की जरूरत नहीं है. इसे आप अपने घर से ही शुरू कर सकती हैं और अगर डिमांड ज्यादा बढ़ जाए तो इसके लिए कोई दुकान भी ले सकती हैं. आइए जानते हैं कैसे शुरू करें टिफिन सेवा का इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें बिजनेस (How To Start Tiffin service Business) और कमाएं मुनाफा.

कब और कैसे शुरू करें ये बिजनेस

टिफिन सेवा का बिजनेस आप अपने किचन से ही शुरू कर सकती हैं. इसे शुरू करने का कोई बेस्ट टाइम नहीं है, हां आपको अपने आस-पास के टारगेट कस्टमर्स पर थोड़ी रिसर्च जरूर करनी होगी. शुरुआत में आप अपने पास-पड़ोस में रहने वाले किराएदार लोगों से ऑर्डर ले सकती हैं. स्टूडेंट, वर्किंग मेन और वुमेन, रिटायर हो चुके बुजुर्ग आदि आपके ग्राहक हो सकते हैं.

लागत के नाम पर शुरुआत में आपको सिर्फ रॉ मटीरियल यानी खाने की चीजों पर ही खर्च करने होंगे, जैसे दाल, चावल, सब्जी आदि. कोई भी खाना बनाने में आपकी जो लागत आती है, उसमें कुछ अतिरिक्त पैसे मार्जिन की तरह जोड़ते हुए वह आप अपने ग्राहकों से कीमत के तौर पर ले सकती हैं. अगर एक बार ग्राहक को आपके हाथ का खाना अच्छा लग गया, तो अगली बार वह खुद लौटकर आपके पास आएगा और अपने साथ के लोगों को भी आपके बारे में बताएगा. खाने के बिजनेस में अगर आपकी डिमांड और सप्लाई मैच होती रहती है तो आपको लागत से दोगुने तक का मुनाफा हो सकता है.

Bumper Business Idea: 7.5 लाख रुपये का निवेश करें और हर महीने 5 लाख रुपये तक कमाएं, जल्द देखें डिटेल्स

Bumper Business Idea: यदि आप उन लोगों में से एक हैं जो एक अपना काम शुरू करना चाहते हैं और नौकरी छोड़कर कुछ अलग करने का विश्वास रखते हैं तो आपको अपने हाथों इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें को आजमाने के लिए कुछ नए विचारों पर ध्यान देना चाहिए। जहां आजकल व्यवसाय के बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं, वहीं सरकार भी लोगों को उद्यमी बनने के लिए प्रोत्साहित कर रही है।

स्टार्टअप्स की मदद के लिए सरकार ने एक फंड भी स्थापित किया है और अगर आप भी एक छोटे से निवेश के साथ एक व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, तो इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें सरकार द्वारा प्रायोजित यह योजना आपके व्यवसाय के सपनों को साकार करने में आपकी मदद कर सकती है।

Common Services Centres के बारे में सुना है?

आपने सामान्य सेवा केंद्रों (CSC) के बारे में सुना होगा, जो इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के तहत काम करने वाली भारत सरकार की इकाई है। सीएससी ने उन लोगों से आगे आने को कहा है जो बिजनेसमैन इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें बनकर लाखों की कमाई करना चाहते हैं।

CSC ने लोगों से कहा है कि यदि वे छोटी राशि का निवेश कर मिनी थियेटर/सिनेमा हॉल के मालिक बनना चाहते हैं तो उन्हें मुफ्त में फॉर्म भरना होगा। सीएससी के मुताबिक, एक बार में करीब 7.5 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है और सिनेमा हॉल का मालिक बनकर प्रति माह 5 लाख रुपये तक की कमाई की जा सकती है।

फॉर्म में उपलब्ध विवरण के अनुसार, यदि आप सिनेमा मालिक बनना चाहते हैं, तो आपके पास सिनेमा परिसर की स्थापना के लिए लगभग 1000 – 2000 वर्ग फुट (वर्ग फीट) की जगह होनी चाहिए। यह जगह आपकी अपनी या किराए की जगह हो सकती है। भवन की छत की ऊंचाई करीब 15 फीट होनी चाहिए।

बैंक से ले सकते हैं लोन

पात्र व्यक्ति भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और अन्य बैंकों जैसे बैंकों से भी ऋण प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप पात्र हैं, तो आप व्यवसाय ऋण प्राप्त कर सकते हैं और यदि आपको कम राशि की आवश्यकता है, तो आप मुद्रा योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Small Business Ideas- शुरुआत में ₹30000 महीने की कमाई होगी, फिर आपकी मर्जी

न्यू स्मॉल बिजनेस आईडियाज तभी सफल होते हैं जब आप सोसाइटी की प्रॉब्लम सॉल्व कर रहे होते हैं। इसमें पूंजी कम लगती है लेकिन आपका इनोवेशन, आपकी नॉलेज, आप की एक्टिविटी और आपका डेडीकेशन सबसे ज्यादा लगता है। आज अपन एक ऐसे इन्नोवेटिव बिजनेस आइडिया के बारे में बात करेंगे जिसे लो इन्वेस्टमेंट हाई प्रॉफिट बिजनेस कह सकते हैं। शुरुआत में ₹30000 महीने की कमाई आसानी से हो जाएगी और फिर आपके ऊपर डिपेंड करेगा कि आप कितना आगे बढ़ सकते हैं।<

सोसाइटी का प्रॉब्लम स्टेटमेंट

दुनिया भर में लोगों की लाइफ में 2 साल ऐसे गुजरे हैं, जिसके कारण पूरी लाइफ स्टाइल ही बदल गई है। भारत में लोग हर प्रकार के वायरस यहां तक कि मच्छरों से भी दूर रहना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें बीमारी के साथ-साथ डॉक्टरों से भी डर लगता है। 5-10 लाख रुपए जमा कराने के बाद यदि डेड बॉडी घर ले जानी पड़े तो स्वाभाविक है कि लोग बीमार होने का जोखिम ही नहीं उठाएंगे, लेकिन प्रॉब्लम यह है कि एक बार फिर पॉल्यूशन बढ़ने लगा है। अपने घर को, अपने बच्चों को वायरस और जहरीले कीड़े मकोड़ों से कैसे बचाएं, एक बड़ी समस्या है। यही प्रॉब्लम आपके लिए बिजनेस अपॉर्चुनिटी है।

यह बिल्कुल सही समय है जब प्रत्येक 500 घरों के बीच में एक Fumigation Service शुरू हो जानी चाहिए। फुमिगेशन सर्विस यानी एक ऐसी सेवा जो किसी भी घर या ऑफिस को लंबे समय के लिए वायरस और कीटाणुओं से मुक्त कर देता है। यदि आप नहीं जानते तो कृपया Fumigation Services के बारे में थोड़ी रिसर्च करें। यूट्यूब पर वीडियो नहीं बल्कि महानगरों में Fumigation Services देने वाली कंपनियों की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करें।

शुरू करने से पहले स्टडी करें और फिर सर्टिफिकेशन प्रोग्राम

Fumigation Services शुरू करने से पहले हम सलाह देते हैं कि आपको एक सर्टिफिकेट प्रोग्राम करना चाहिए। यह काफी सस्ता है, आप अपनी पसंद के हिसाब से किसी भी इंस्टिट्यूट को चुन सकते हैं। ऑनलाइन भी हो जाता है। सर्टिफिकेट मिल जाने से आप की विश्वसनीयता बढ़ जाती है। मशीन महंगी नहीं आती। सबसे इंपोर्टेंट है आपकी स्टडी और केमिकल। आप चाहे तो PPE KIT पहनकर खुद कर सकते हैं या फिर एक असिस्टेंट नियुक्त कर सकते हैं।

इस सवाल का जवाब तो अब सबको पता हो गया है। ट्रेड लाइसेंस (जिसे गुमास्ता या दुकान स्थापना का पंजीयन भी कहते हैं) लेने के बाद फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप के जरिए अपनी सेवाओं की घोषणा कीजिए।

भारत में महिला स्टार्टअप्स पर गूगल करेगा 622 करोड़ का निवेश, जानें कैसी कंपनियों को मिल सकता है फायदा

How women centric startups work

जहां तक स्टार्टअप्स का सवाल है तो भारत इन दिनों एक बड़ा बिजनेस हब बना हुआ है। एक के बाद एक कई कंपनियां भारत में रजिस्टर हो रही हैं। ये वो समय है जब देश तरक्की की ओर बढ़ रहा है और इसमें महिलाओं का हाथ भी है। इसलिए तो दिग्गज टेक जायंट गूगल ने महिला प्रधान स्टार्टअप्स में निवेश की घोषणा की है।

हाल ही में गूगल इंडिया के प्रोग्राम में सुंदर पिचाई ने बात की और ये बताया कि गूगल की तरफ से 100 से अधिक भाषाओं में सर्च मॉडल विकसित किया जा रहा है और महिला नेतृत्व वाली स्टार्टअप कंपनियों में लगभग इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें 7.5 करोड़ डॉलर (622 करोड़ रुपये) की आर्थिक मदद भी दी जाएगी।

महिला स्टार्टअप्स में किया जाएगा निवेश

गूगल फॉर इंडिया कार्यक्रम में आए सुंदर पिचाई ने कहा कि वो भारत में 30 करोड़ डॉलर का निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं जिसमें से एक तिहाई हिस्सा महिला प्रधान स्टार्टअप्स को जाएगा।

sundar pichai and startups

सुंदर पिचाई के मुताबिक इस समय स्टार्टअप्स में निवेश बहुत जरूरी है और ये अच्छा साबित हो सकता है। उनके मुताबिक गूगल कंपनी महिला स्टार्टअप्स को सिलेक्ट कर उनमें निवेश कर सकती है। इस तरह से महिलाओं और स्टार्टअप के क्षेत्र में गूगल कंपनी आर्थिक मदद देगी।

इस वक्त भारत आईटी हब बनता जा रहा है और धीरे-धीरे हम महिला प्रधान स्टार्टअप्स की लिस्ट लंबी होती जा रही है। पर क्या आपको पता है कि ये स्टार्टअप्स कौन से हैं।

भारत के मुख्य महिला प्रधान स्टार्टअप्स

वैसे तो इस लिस्ट में 500 से भी ज्यादा इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें नाम जोड़े जा सकते हैं जहां महिलाओं ने स्टार्टअप कंपनियां खोलकर अपनी पहचान बनाई है, लेकिन चलिए हम टॉप 10 के बारे में ही आपको बता देते हैं।

1. Naykaa

स्टार्टअप - फाल्गुनी नायर

नायका की शुरुआत करने वाली फाल्गुनी नायर आज देश की सबसे अमीर महिलाओं में से एक हैं। इसकी शुरुआत भी एक स्टार्टअप की तरह हुई थी।

startup and google

2. Thrillophilia

स्टार्टअप - चित्रा गुरनानी डागा

देश की सबसे बड़ी एडवेंचर टूर एंड ट्रैवल कंपनी को शुरू करने वाली चित्रा का नाम आज काफी फेमस हो गया है। चित्रा को अपने काम के लिए मिनिस्ट्री ऑफ एक्सटर्नल अफेयर्स से प्रोत्साहन भी मिला है।

Crypto Trading : कैसे करते हैं क्रिप्टोकरेंसी में निवेश और कैसे होती है इसकी ट्रेडिंग, समझिए

Crypto Trading : कैसे करते हैं क्रिप्टोकरेंसी में निवेश और कैसे होती है इसकी ट्रेडिंग, समझिए

Cryptocurrency Trading : क्रिप्टोकरेंसी में निवेश को लेकर है बहुत से भ्रम. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एन्क्रिप्शन के जरिए सुरक्षित रहने वाली एक डिजिटल करेंसी है. माइनिंग के जरिए नई करेंसी या टोकन जेनरेट किए जाते हैं. माइनिंग का मतलब उत्कृष्ट कंप्यूटरों पर जटिल गणितीय समीकरणों को हल करने से है. इस प्रक्रिया को माइनिंग कहते हैं और इसी तरह नए क्रिप्टो कॉइन जेनरेट होते हैं. लेकिन जो निवेशक होते हैं, वो पहले से मौजूद कॉइन्स में ही ट्रेडिंग कर सकते हैं. क्रिप्टो मार्केट में उतार-चढ़ाव का कोई हिसाब नहीं रहता है. मार्केट अचानक उठता है, अचानक गिरता है, इससे बहुत से लोग लखपति बन चुके हैं, लेकिन बहुतों ने अपना पैसा भी उतनी ही तेजी इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें से डुबोया है.

यह भी पढ़ें

अगर आपको क्रिप्टो ट्रेडिंग को लेकर कुछ कंफ्यूजन है कि आखिर यह कैसे काम करता है, तो आप अकेले नहीं हैं. बहुत से लोग यह समझने की कोशिश कर रहे हैं कि वर्चुअल करेंसी में कैसे निवेश करें. हम इस एक्सप्लेनर में यही एक्सप्लेन करने की कोशिश कर रहे हैं कि आप क्रिप्टोकरेंसी में कैसे निवेश कर सकते हैं, और क्या आपको निवेश करना चाहिए.

क्रिप्टोकरेंसी क्या है, ये समझने के लिए समझिए कि यह क्या नहीं है. यह हमारा ट्रेडिशनल, सरकारी करेंसी नहीं है, लेकिन इसे लेकर स्वीकार्यता बढ़ रही है. ट्रेडिशनल करेंसी एक सेंट्रलाइज्ड डिस्टिब्यूशन इन्वेस्टमेंट कब शुरू करें यानी एक बिंदु से वितरित होने वाले सिस्टम पर काम करती है, लेकिन क्रिप्टोकरेंसी को डिसेंट्रलाइज्ड टेक्नॉलजी, ब्लॉकचेन, के जरिए मेंटेन किया जाता है. इससे इस सिस्टम में काफी पारदर्शिता रहती है, लेकिन एन्क्रिप्शन के चलते एनॉनिमिटी रहती है यानी कि कुछ चीजें गुप्त रहती हैं. क्रिप्टो के समर्थकों का कहना है कि यह वर्चुअल करेंसी निवेशकों को यह ताकत देती है कि आपस में डील करें, न कि ट्रेडिशनल करेंसी की तरह नियमन संस्थाओं के तहत.

क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग कैसे होती है?

इसके लिए आपको पहले ये जानना होगा कि यह बनता कैसे है. क्रिप्टो जेनरेट करने की प्रक्रिया को माइनिंग कहते हैं. और ये काम बहुत ही उत्कृष्ट कंप्यूटर्स में जटिल क्रिप्टोग्राफिक इक्वेशन्स यानी समीकरणों को हल करके किया जाता है. इसके बदले में यूजर को रिवॉर्ड के रूप में कॉइन मिलती है. इसके बाद इसे उस कॉइन के एक्सचेंज पर बेचा जाता है.

bitcoins 650

कौन कर सकता है ट्रेडिंग?

ऐसे लोग जो कंप्यूटर या टेक सैवी नहीं हैं, वो कैसे क्रिप्टो निवेश की दुनिया में प्रवेश कर सकते हैं? ऐसा जरूरी नहीं है कि हर निवेशक क्रिप्टो माइनिंग करता है. अधिकतर निवेशक बाजार में पहले से मौजूद कॉइन्स या टोकन्स में ट्रेडिंग करते हैं. क्रिप्टो इन्वेस्टर बनने के लिए माइनर बनना जरूरी नहीं है. आप असली पैसों से एक्सचेंज पर मौजूद हजारों कॉइन्स और टोकन्स में से कोई भी खरीद सकते हैं. भारत में ऐसे बहुत सारे एक्सचेंज हैं तो कम फीस या कमीशन में ये सुविधा देते हैं. लेकिन यह जानना जरूरी है कि क्रिप्टो में निवेश जोखिम भरा है और मार्केट कभी-कभी जबरदस्त उतार-चढ़ाव देखता है. इसलिए फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स निवेशकों से एक ही बार में बाजार में पूरी तरह घुसने की बजाय रिस्क को झेलने की क्षमता रखने की सलाह देते हैं.

यह समझना भी जरूरी है कि सिक्योर इन्वेस्टमेंट, सेफ इन्वेस्टमेंट नहीं होता है. यानी कि आपका निवेश ब्लॉकचेन में तो सुरक्षित रहेगा लेकिन बाजार में उतार-चढ़ाव का असर इसपर होगा ही होगा, इसलिए निवेशकों को पैसा लगाने से पहले जरूरी रिसर्च करना चाहिए.

रेटिंग: 4.80
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 394